SHARE

कुछ ऐसे फूड जिनको आप कच्चा नहीं खा सकते लेकिन अक्सर हम सुनते हैं कि हमें ताजी और कच्ची सब्जियां और फल खाना चाहिए जिससे हमें सारा उसके न्यूट्रीशन मिले लेकिन जब हम कोई रो फूड खाते हैं तो उसमें बहुत सी बैटरी अभी होती है और कुछ ऐसे फूड होते हैं जिनको आप कच्चा नहीं खा सकते|

आज आप इस पोस्ट में कुछ ऐसे फूड के बारे में जानेंगे जो आप अक्सर कच्चा ही खा जाते हैं और आपको लगता है उससे आपके शरीर में सारे नोटेशन बेनिफिट मिल जाएगी जबकि आपको यह नहीं पता होता है इस को कच्चा खाने से आपकी सेहत पर बुरा भी असर पड़ सकता है तो इस पोस्ट को लास्ट तक जरूर पड़ेगा|

10) Rhubarb पत्तियां

10 ऐसे फूड जिनको आप कच्चा नहीं खा सकते

न्यू यॉर्क सिटी के माउंट सिनाई अस्पताल के रिसर्च के अनुसार रूबर्ब पौधे के डंठल खाने योग्य होते हैं, लेकिन आप रूबर्ब पौधे की पत्तियां नहीं खा सकते हैं जो कि अक्सर लोग उसको खाया करते हैं क्योंकि इसकी पत्तियों में प्वाइजन होता है और इसके खाने से सांस लेने में कठिनाई, मुंह और गले में जलन और यहां तक कि दौरे भी पड़ सकते हैं।

10 ऐसे फूड जो हमें फ्यूचर में खाने को नहीं मिलेंगे

9) राजमा

Red Kidney Beans you shouldn't eat राजमा

राजमाे कभी भी कच्चा नहीं खाना चाहिए और इसको किडनी की फलियाँ कहा जाता है यहाँ तक कि सफेद किडनी की फलियों यानी सफेद राजमा से भी ज्यादा नुकसान करता है, उनमें आपको टॉक्सिन लेक्टिन की उच्च स्तर मात्रा पा सकते हैं जो गंभीर खाद्य जनित बीमारी का कारण बन सकते हैं।

उन्हें आधे घंटे के लिए पकाया जाना चाहिए और पानी पूरी तरह से सूखा होना चाहिए ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि सभी लेक्टिन भागने में सक्षम हैं।

8) जंगली मशरूम

कुछ ऐसे फूड को आप कच्चा नहीं सका सकते हैं जैसे कि जंगली मशरूम

एलेक्जेंड्रा ओपेनहाइमर डेल्विटो M.S., R.D., C.D.N., न्यूयॉर्क स्थित पंजीकृत आहार विशेषज्ञ कहते हैं की आपको जंगली मशरूम नहीं खाना चाहिए, जंगली मशहूर की सबसे बड़ी पहचान उसका चटक रंग है और भी मार्केट में बहुत से मशरूम है जो कि हेल्थ के लिए बहुत ही बुरा है अगर आप मशरूम ले रहे हो तो पूरी जांच और पड़ताल करके ले और उसको कायदे से पकाएं ताकि सारे बैक्टीरिया मर जाए|

7) बीफ, पोर्क, और चिकन

बीफ, पोर्क, और चिकन 10 ऐसे फूड जिनको आप कच्चा नहीं खा सकते

आपको कभी भी अच्छा मीट नहीं खाना चाहिए कच्चा मतलब आप अगर कायदे से मीट को नहीं पक्का आएंगे तो एक तरीके से कच्चा ही रहेगा और ज्यादा पका देंगे तो वह भी खराब माना जाएगा|

“मीट को एक सुरक्षित न्यूनतम आंतरिक तापमान पर पकाया जाना चाहिए। ग्राउंड मीट के लिए, वह 160 ° F। गोमांस या मेमने के स्टेक, रोस्ट या चॉप के लिए, यह 145 ° F है और फिर इसे तीन मिनट के लिए आराम करने को देता है। और पोर्क के लिए, यह 145 ° F है और फिर इसे तीन मिनट के लिए आराम करने को देता है। डेल्विटो कहते हैं, तुर्की और चिकन को 165 ° F के आंतरिक तापमान तक पहुंचना चाहिए। “इन तापमानों के नीचे, आप एक जोखिम ले रहे हैं।”

6) एल्डर बेरी

10 Foods You Shouldn’t Eat Raw

जबकि जामुन सर्दी और फ्लू से लड़ने के लिए एक प्रतिष्ठा है और यहां तक कि मुँहासे और चिढ़ त्वचा को शांत करने के लिए उनका कच्चा रूप जहरीला हो सकता है।

5) बैंगन

कुछ ऐसे फूड जिनको आप कच्चा नहीं खा सकते

बैंगन, इसे पकाने से पहले एक ही ग्लाइकोकलॉइड यौगिक होता है जैसे कच्चे आलू करते हैं सोलनिन जो घातक नहीं होता है लेकिन यह अभी भी कच्चा खाने के लिए सही नहीं है। साथ ही फूड केमिस्ट्री के एक अध्ययन से पता चला है कि जैतून के तेल में सॉस होने पर बैंगन के एंटीऑक्सिडेंट लाभ हो सकते हैं इसलिए यह एक जीत है।

4) पफ़रफ़िश

Foods You Shouldn’t Eat Raw

पफरफिश को कभी भी कच्चा नहीं खाया जाता है और जब यह पकाया जाता है तो इसे खाने का जोखिम भी है “पफरफिश टेट्रोडोटॉक्सिन नामक एक जहरीला यौगिक बनाता है, और जब आप इसको अच्छी तरह पका दे फिर भी यह नहीं पता चल सकता कि इसकी सारे बैक्टीरिया मरे हैं कि नहीं तो इससे अच्छा यही है कि हमें यह ना कच्चा या पकाकर इस मछली को खाना चाहिए|

3) अंकुर

10 ऐसे फूड जिनको आप कच्चा कच्चा नहीं खान सकते

वैसे तो अंकुर को सबसे हेल्दी स्नेक माना जाता है लेकिन अगर आप उसको कच्चा खा रहे हैं तो एक बात का ध्यान दें कि इसमें आपको बैक्टीरिया मिल सकता है जो कि ज्यादातर सीड में मिलता है। यह एफडीए के अनुसार, गर्भवती महिलाओं और समझौता प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों के लिए खतरनाक हो सकता है।

2) बादाम

Never eat Raw food

कड़वे बादाम एक सियानोजेनिक पौधे के रूप में बढ़ते हैं, जिसका अर्थ है कि इसमें साइनाइड होता है। बादाम पकने या भुने होने के बाद भी ठीक नहीं होता है खाने के लिए |

1) अंडा

कुछ ऐसे फूड जिनको आप कच्चा कच्चा नहीं खान सकते

यह शायद आपके लिए कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि साल्मोनेला बैक्टीरिया के होने के कारण अंडे को कच्चा नहीं खाया जाना चाहिए। “किसी भी मौजूदा बैक्टीरिया को मारने के लिए सुनिश्चित करने के लिए, अंडे को एक सुरक्षित तापमान पर पकाया जाना चाहिए, जो कि 145 ° F है।

जो लोग फिटनेस पर कुछ ज्यादा ध्यान देते हैं वह लोग अक्सर कच्चे अंडे पीते हैं और उनको यह पता नहीं होता कि इसकी सेवन से उनके शरीर पर बहुत बुरा असर पड़ सकता है उनको सिर्फ कच्चा अंडा एक प्रोटीन का बेहतरीन सोर्स नजर आता है लेकिन कच्चा अंडा शरीर के लिए घातक है|

धन्यवाद