What is Goldilocks Zone in Hindi | वासयोग्य क्षेत्र क्या है

1

जानिए गोल्डीलॉक्स जोन(Goldilocks Zone) क्या है

Goldilocks zone को हिंदी में वासयोग्य क्षेत् कहा जाता है|
गोल्डीलॉक्स जोन को हैबिटेबल जोन( habitable Zone) भी कहा जाता है|
हमारे पूरे सौरमंडल में से पृथ्वी ही ही ही ही ऐसा एकलौता ग्रह है जिस पर जीवन संभव है और हमारी पृथ्वी गोल्डीलॉक्स जोन में आती है|
Goldilocks Zone उस क्षेत्र को कहा जाता है जहां पर जीवन पनपने की संभावना हो यानी कि ऐसी जगह जो सूरज से ज्यादा पास भी ना हो और ना ही ज्यादा दूर जैसी हमारी पृथ्वी है|
इस शब्द को पहली बार 1953 में ह्यूबर्टस स्ट्रूगोल्ड( Hubertus Strughold ) द्वारा पेश की गई था|

What is Goldilocks Zone in Hindi

इस Goldilocks Zone मैं सिर्फ पृथ्वी ही आता है यह क्षेत्र हमारी पृथ्वी के आसपास के दायरे को कवर करता है और खेत में कोई दूसरा नहीं है जाने की यह गोल्डीलॉक्स जोन शुक्र ग्रह के बाद से शुरू(Venus) गृह होता है और मंगल(Mars) ग्रह से पहले खत्म हो जाता है|
खगोल वैज्ञानिकों का मानना है कि मंगल ग्रह भी पहले इस Goldilocks Zone मैं आता था और इस ग्रह पर भी जीवन रहा होगा इसीलिए बहुत से खगोल वैज्ञानिक किस ग्रह का अध्ययन करती है ताकि हम इस ग्रह पर फिर से जीवन ला सके|

K2-18b क्या है / K2 18b super Earth planet

K2 18b planet in Hindi, Goldilocks Zone in Hindi

K2-18b ग्रह पर अभी हाल ही में नासा ने ऐलान किया था कि हमें इसके वायुमंडल में भाप(Water Vapour) की मौजूदगी मिली है|
यह K2-18b ग्रह हमारे पृथ्वी जैसा एक ग्रह है जो कि हमारे पृथ्वी से 1 प्रकाश वर्ष(Light year) दूर है|
यह ग्रह भी गोल्डीलॉक्स जोन में आता है यानी कि यह अपने तारे से( अपने सूरज ) ना ज्यादा पास है और ना ही ज्यादा दूर है|
वैज्ञानिक बताते हैं कि K2-18b हमारी पृथ्वी से 8 गुना ज्यादा बड़ा है और इस ग्रह पर पानी होने की काफी ज्यादा संभावना है और वह सारे जरूरी गैसेस मौजूद है जो हमारी पृथ्वी पर है जिसकी वजह से हम इंसान आसानी से रह सकते हैं|
कुछ वैज्ञानिक यह भी बताते हैं कि K2-18b ग्रह का तारा( जिसका यह ग्रह परिक्रमा करता है ) वह बहुत ही ज्यादा सक्रिय है जिसकी वजह से खतरनाक किरणें निकलती है इस वजह से उस करें पर हम इंसान नहीं रह सकते|

क्यों करते हैं खगोल विज्ञानी  दूर के ग्रहों का अध्ययन|

वैज्ञानिक ग्रहों का अध्ययन इसलिए करते हैं ताकि हमारे सौर्य मंडल को समझ सकें और किसी भी ग्रह को टेराफोर्मिंग कर सकें|
टेराफोर्मिंग मतलब की किसी भी ग्रह को बदलकर पृथ्वी जैसे रहने लायक ग्रह बनाना, जैसा कि हम मंगल ग्रह के साथ कर रही हैं|

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here