Galileo Galilei facts in Hindi | गैलिलियो गैलिली से जुड़े 25 रोचक तथ्य

2

गैलिलियो गैलिली(Galileo Galilei) से जुड़े 25 रोचक और मजेदार तथ्य

गैलीलियो गैलीली का जन्म 15 फरवरी 1564 में इटली में हुआ था|

मृत्यु; 8 जनवरी 1642( आयु 74 वर्ष )

खोज(Discovered); कॉलिस्टो, गैनीमेड, यूरोपा, लो, शनि का वलय(Ring of Saturn)

कार्य क्षेत्र; खगोल विज्ञान(Astronomy), भौतिकी(Physics), इंजीनियरिंग, प्राकृतिक दर्शन(Natural philosophy), गणित

उपलब्धियां; कीनेमेटिक, गतिशील(Dynamic), दूरबीन, अवलोकन संबंधी खगोल विज्ञान, सूर्य केंद्रीय(Heliocentric)

Amazing and interesting facts about Galileo Galilei / गैलीलियो गैलीली के कुछ रोचक तथ्य

 रोचक तथ्य / 25 Amazing facts about Galileo Galilei

1) गैलीलियो गैलीली का जन्म इटली के पीसा शहर हुआ था, यह अपने मां बाप की 6 संतानों में से पहली संतान थे से में से पहली संतान थे से पहली संतान थे|
2) जब गैलीलियो 10 साल के हुए तब उनका परिवार पीसा छोड़कर फ्लोरेंस  में आ गया, वहीं से उनकी पढ़ाई की शुरुआत पढ़ाई की शुरुआत उनकी पढ़ाई की शुरुआत पढ़ाई की शुरुआत हुई.
3) गैलीलियो गैलीली के पिता संगीत  मास्टर थे और वह गैलीली गलियों को चिकित्सक(Doctor) बनाना चाहते थे इसीलिए वह औषधि(medicine) विज्ञानं की पढ़ाई के लिए 11 साल की उम्र में उनको चिकित्सक के स्कूल भेज दिया दिया|
4) गैलीलियो गैलीली के पिता चाहते थे कि उनका बेटा खूब पैसा कमाए और परिवार की देखभाल करें इसी कारण उन्होंने 17 साल की उम्र में चिकित्सक की पढ़ाई के लिए “यूनिवर्सिटी ऑफ पीसा” भेज दिया,
5) गैलीलियो की रुचि भौतिकी और गणित मैं 10 साल की उम्र से थी लेकिन उनके पिता उनको चिकित्सक बनाना चाहते थे इसी वजह से गैलीलियो को 17 साल की उम्र में “यूनिवर्सिटी ऑफ पीसा” में चिकित्सक की पढ़ाई के लिए वहां जाना पड़ा पड़ा जाना पड़ा|
6) गैलीलियो का  मन चिकित्सक के  पढ़ाई से उठ चुका था और समर वेकेशन की छुट्टी होने वाला था, गैलीलियो ने सोच लिया था कि चिकित्सक की पढ़ाई छोड़ देंगे लेकिन उनको यह भी पता था कि वह कभी अपने पिता को इस बात के लिए मना नहीं पाएंगे,
इसलिए गैलीलियो ने गर्मी की छुट्टियों पर गणित के मास्टर ओस्टिलियो रिक्की को अपने घर खाने के लिए बुलाया और ओस्टिलियो रिक्की को वह पहले ही सारी बात बता चुके थे सारी बात बता चुके थे और चाहते थे कि वह उनके पिता को गणित और भौतिकी की पढ़ाई के लिए मनाए|
बेटी और मास्टर के काफी मनाने के बाद पिता ने हामी भर दी और गैलरी ओं को को गणित और भौतिक की पढ़ाई की मंजूरी दे दी|
7) गैलीलियो को 1585 मैं यूनिवर्सिटी से निकाल दिया गया था और वह अपनी पढ़ाई पूरी भी नहीं भी नहीं कर सके और एक ड्रॉप आउट विद्यार्थी बन चुके थे|
8) गैलीलियो गैलीली यूनिवर्सिटी से निकालने के बाद अपना गुजारा करने के लिए विद्यार्थियों को गणित का प्राइवेट ट्यूशन पढ़ाते थे थे|
9) 1586 मैं 22 साल के गैलीलियो गैलीली ने अपने जीवन की पहेली बुक लिखी जिसका नाम था द लिटिल बैलेंस बैलेंस द लिटिल बैलेंस(The little balance) था|
यह भी पढ़ें- Saturn Facts in Hindi | शनि ग्रह के कुछ रोचक तथ्य
10) 1589 मैं गैलीलियो को 3 साल के लिए गणित के प्रोफेसर के लिए अपॉइंट के लिए अपॉइंट किया गया वह भी यूनिवर्सिटी ऑफ फाइनेंस में जहां पर हो अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाए थे थे|
गैलीलियो इस समय तक लोगों के बीच काफी फेमस हो चुके थे यही कारण था कि यूनिवर्सिटी यही कारण था कि यूनिवर्सिटी था कि यूनिवर्सिटी ऑफ पीसा ने उन्हें खुद 3 साल के लिए गणित के प्रोफेसर के लिए साइन किया था|

                                 11-25

गैलीलियो की लव लाइफ

11) गैलीलियो ने अपने जीवन में कभी भी शादी नहीं की लेकिन “वीनस के ट्रिप” में उनकी मुलाकात एक मरीना नाम की एक लड़की से होती है और मरीना के साथ लंबे रिलेशन में रहते हैं हैं और तीन संतानों को जन्म देते हैं|
12) गैलीलियो के पास दहेज देने के लिए पैसा नहीं था इसलिए वह अपने दोनों दोनों वह अपने दोनों दोनों इसलिए वह अपने दोनों दोनों वह अपने दोनों बेटियों को पूरा जीवन चर्च के हवाले नन बनने के लिए दे दिया था|
13) 1609 मैं गैलीलियो ने सुना कि कि डच(Dutch) के वैज्ञानिक ने एक स्पाईग्लास बनाया है जिसके बदौलत दूर की चीजों  को आसानी से देख सकते हैं, इस चीज को होलेंड के के लोगों ने सीक्रेट रखा क्योंकि इस दूरबीन को आर्मी के इस्तेमाल के लिए बनाया गया था|
14) गैलीलियो ने कभी हॉलैंड में बनी दूरबीन को नहीं देखा था सिर्फ सुनने के और सुनने के 24 घंटा बाद  ही  गैलीलियो ने 10x दूरबीन का इंवेंशन कर दिया दिया, इसको और भी बेहतर बनाकर दूरबीन को 30x(30 गुना दूर तक देख सकते हैं) कर दिया|
15) गैलीलियो ने इस दूरबीन को वेनिस शहर के लिए बनाया था|
16) उस समय लोगों का मानना था कि चांद की सताई एकदम चिकनी है इसी वजह से चांद इतना चमकता है है लेकिन गैलीलियो ने अपनी दूरबीन से देखकर लोगों को बताया चांद की सतह उबर खाबर और गड्ढों और गड्ढों से भरी पड़ी है|
17) दूरबीन की इंवेंशन के बाद गैलीलियो ने अपने से लगभग 100 साल पहले के विज्ञानिक निकोलस  कोपरनिकस( Nicolaus Copernicus) सिद्धांत(theory) का अध्ययन करना शुरू कर दिया था|
18) निकोलस  कोपरनिकस ने बताया था कि सूरज हमारे सौरमंडल का सेंटर है और बाकी ग्रहो की तरह पृथ्वी की तरह पृथ्वी भी सूरज का चक्कर लगाती है|
उस समय के लोग बहुत अंधविश्वासी थे और उनका कहना था कि पृथ्वी हमारे सौरमंडल का सेंटर है बाकी सब ग्रह पृथ्वी का चक्कर लगाते हैं और जो कोई इस बात से इंकार करता था उसको चार्ज बड़ी से बड़ी सजा देती थी|
19) गैलीलियो ने अपनी दूरबीन को और भी बेहतर करके 30x तक पहुंचाया और फिर बृहस्पति(Jupiter) ग्रह का अध्ययन करना शुरू कर दिया और बृहस्पति(Jupiter) ग्रह के 4 चांद भी खोज दिए आईओ, कैलिस्टो, यूरोपा और गेनीमेड|
यह भी पढ़ें-  Uranu Facts in Hindi | अरुण ग्रह के बारे में कुछ रोचक तथ्य

मौत 

20) गैलीलियो ने बहुत सी चर्च की बातों को गलत साबित किया, इसी कारण चर्च के पादरी गैलीलियो को अपना दुश्मन मानने लगे थे और गैलीलियो की सिद्धांत(theory) का विरोध करना शुरू कर दिया|
21) गैलीलियो ने एक नावेल लिखी, जिसमें दिखाया कि कैसे चार्ज के लोगों ने नवेल के  कैरेक्टर को कैसे प्रशांत किया, यह नवेल लोगों के बीच काफी प्रसिद्ध हुई और यह सब चर्च के लोगों को सुई की तरह लग  गई|
22) चर्च के लोगों ने गैलीलियो को रोम मैं बोला कर इस बात के लिए माफी मांगने को कहा और ना मानने पर सजा सुनाने को बोला, गैलीलियो ने चार्ज की बात नहीं मानी फिर चार्ज के लोगों ने गैलीलियो को सजा सुना दी|
23) गैलीलियो लोगों के बीच काफी फेमस हो चुके थे इसी कारण उनको कैदी की जेल में नहीं डाला गया उनको उन्हीं के घर(House arrest) में चर्च के कुछ नियम के साथ रखा गया|
24) गैलीलियो ने अपने अंतिम दिन से पहले अपनी आंखों की रोशनी खो दी थी, आंख रोशनी के जाने के बाद बीमारियों ने उनको जकड़ लिया और उनकी मौत हो गई|
25) जिस साल गैलीलियो की मौत हुई उसी साल महान वैज्ञानिक आइज़क न्यूटन का जन्म हुआ लोग कहते हैं कि आइज़क न्यूटन गैलीलियो गैलीली का नया जन्म है|

 

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here